यूजर्स का डेटा कैसे कलेक्ट करते हैं और उसका इस्तेमाल कहां होता है: अमेरिकी सांसदों का एपल, गूगल से सवाल

14

अमेरिकी सांसदों ने एपल के सीईओ टिम कुक और गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के सीईओ लैरी पेज को एक चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में उन्होंने इन दोनों कंपनियों से पूछा है कि वे कैसे यूजर्स को डेटा को कलेक्ट करती हैं और इनका इस्तेमाल कहां किया जाता है? ये चिट्ठी अमेरिकी संसद के एनर्जी और कॉमर्स कमेटी के सदस्यों ने लिखी है और दोनों कंपनियों से 23 जुलाई तक जवाब देने को कहा गया है।

हाल ही में डेटा प्राइवेसी को लेकर उठे सवालों को लेकर चिंता जताते हुए अमेरिकी सांसदों ने एपल और गूगल से एंड्रॉयड और आईफोन डिवाइस के जरिए यूजर्स के डेटा, ऑडियो रिकॉर्डिंग और लोकेशन तक थर्ड पार्टी की पहुंच पर जानकारी मांगी है।

गूगल से क्या पूछे ये तीन सवाल
1. ऐसे कितने सॉफ्टवेयर डेवलपर्स और थर्ड पार्टी डेवलपर्स हैं, जिनके पास यूजर्स के जीमेल अकाउंट को एक्सेस करने की अनुमति है?
2. क्या इन पर गूगल ने कोई प्रतिबंध लगाया है कि वे जीमेल यूजर्स के डेटा का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं?
3. थर्ड पार्टी डेवलपर्स गूगल की सेवा की शर्तों (टर्म्स ऑफ सर्विस) को पूरा करते हैं, इसे गूगल कैसे वेरिफाय करता है?

एपल से पूछे ये तीन सवाल
1. क्या आईफोन से कंपनी यूजर्स के डेटा को कलेक्ट करती है?
2. अगर आईफोन में यूजर्स ने अपनी लोकेशन-ट्रैकिंग को बंद कर रखा है तो कंपनी कैसे उनका डेटा कलेक्ट करती है?
3. क्या आईफोन से लोगों की अनुमति के बिना भी ऑडियो रिकॉर्डिंग को कलेक्ट किया जाता है और अगर थर्ड पार्टी ऐप्स ऐसा करती हैं तो क्या एपल उन्हें कंट्रोल और सीमित कर सकता है?

वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट का दिया हवाला : हाल ही में वॉल स्ट्रीट जर्नल में एक रिपोर्ट छपी थी, जिसमें कहा गया था कि गूगल के पास ऐसे सैकड़ों थर्ड पार्टी डेवलपर्स हैं, जिनको करोड़ों जीमेल यूजर्स के ईमेल स्कैन करने की अनुमति है।
– अमेरिकी सांसदों ने गूगल को लिखी चिट्ठी में कहा है ‘गूगल ने जून 2017 में कहा था कि कंपनी एडवर्टाइजिंग के लिए जीमेल यूजर्स के अकाउंट को स्कैन करना बंद कर देगी। लेकिन उसके बावजूद कंपनी ने थर्ड पार्टी डेवलपर्स को जीमेल अकाउंट स्कैन करने की अनुमति दे रखी है।’ अमेरिकी सांसदों ने इस संबंध में गूगल से रिपोर्ट भी मांगी है।